The material on this site may not be reproduced, distributed, transmitted, cached or otherwise used, except with the prior written permission of digital. Copyright © 2021 Damoh Today

Advertisement

दमोह में हिन्दू युवती का अपरहण हिन्दूवादी संगठनो ने लगाया "लवजिहाद" आरोप

hindi girl kidnapped in damoh
हिन्दू संगठनो सहित लोगों ने घंटाघर पर किया विरोध प्रदर्शन

दमोह। शहर के बजरिया वार्ड से एक युवती का अपहरण किए जाने का आरोप लगाते हुए गुरुवार घंटाघर पर भारी भीड़ जमा हो गई। जिसमें महिलाओं की संख्या ज्यादा थी। देखते ही देखते अचानक 5 रास्ते जाम कर दिए गए। पुलिस पर सूचना देने के बाद कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए महिलाओं ने पुलिस अधिकारियों को चूडिय़ां पहनाने का असफल प्रयास किया।

हिन्दी अख़बार पत्रिका में छपी ख़बर के मुताबिक़ बजरिया वार्ड की युवती जो गर्ल्स कॉलेज में पढ़ती है। घर से ही सुबह 11 बजे निकली थी, जब शाम 4 बजे तक नहीं लौटी और घर से 3 लाख रुपए गायब हुए तो परिजनों को युवती के घर से भागने और इस मामले में संदेह एक समुदाय विशेष के युवा पर होने से कोतवाली पहुंचे। 

जहां पुलिस को युवा व युवती को पकडऩे के लिए तत्काल कार्रवाई करने की मांग करने लगे। कोतवाली पुलिस ने लड़के के पकड़े जाने की बात कही है, लेकिन लड़की के बारे में कुछ भी नहीं बताया। जब परिजनों को लगा कि पुलिस कार्रवाई नहीं करेगी तो रात्रि 8 बजे परिजन, जिसमें बड़ी संख्या महिलाओं और बच्चों की थी, वह सभी घंटाघर पहुंच गए। 

इसके बाद 5 रास्तों पर महिला और बच्चे बैठ गए जिससे रास्ते बंद हो गए। रास्ता जाम होने के बाद 15 मिनट बाद पुलिस पहुंची। इसके बाद सीएसपी अभिषेक तिवारी पहुंच गए। आक्रोशित परिजनों व हिंदूवादी संगठनों के लोगों को समझाइश देते हुए शीघ्र कार्रवाई करने की बात कहते रहे, लेकिन परिजन लड़की को सुपुर्द करने की मांग करते रहे।

महिला पुलिस ने चूड़ी पहनने से बचाया:

करीब एक घंटे तक चली गहमागहमी में पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन के बाद एकाएक महिलाओं के हाथों में चूडिय़ां के डिब्बा नजर आने लगे। घंटाघर एक महिला ने पुरुष पुलिसकर्मी का हाथ पकड़ लिया। जिसे वह जबरदस्ती चूड़ी पहनाने लगी। इसी बीच महिला पुलिसकर्मी ढाल बनकर खड़ी हो गई। पुलिस पुरुष पुलिसकर्मी को चूड़ी पहनने से बचाया। इसके साथ ही अन्य महिलाओं ने भी पुलिस को चूडिय़ां पहनाने का प्रयास किया जो असफल रहा।

हिंदू संगठनों ने लगाया लव जिहाद का आरोप:

बजरंग दल के पवन रजक का आरोप था कि लड़की का अपहरण लव जिहाद के तहत किया गया है। पुलिस को पूरी सूचना दी गई लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की है। पुलिस ने कहा है कि वह लड़की को सुपुर्द कर देंगे, इसलिए पुलिस को 24 घंटे का वक्त दिया गया है, यदि लड़की सुपुर्द नहीं की गई तो रविवार को पूरा जिला बंद रखा जाएगा।

एएसपी ने खत्म कराया प्रदर्शन:

करीब 2 घंटे से चल रहे विरोध प्रदर्शन को एएसपी शिवकुमार सिंह ने खत्म कराया। उन्होंने परिजनों व हिंदू संगठनों से चर्चा करते हुए कहा कि वह शीघ्र ही लड़की को बरामद कर परिजनों के सुपुर्द करेंगे। साथ ही लड़के पर कार्रवाई भी करेंगे।